उत्तराखंड-:सीएम त्रिवेंद्र रावत ने डोबरा-चांठी सस्पेंशन ब्रिज का किया उद्धघाटन

0
209

आज रविवार को मुख्यमंत्री रावत ने प्रताप नगर के लोगो को एक बड़ी सौगात दी है जिसका इंतजार पिछले 14 वर्षो से हो रहा था टिहरी झील पर निर्मित देश के सबसे लंबे डोबरा-चांठी सस्पेंशन ब्रिज (मोटरेबल सिंगल लेन झूला पुल) का रविवार को उद्घाटन कि‍या। बहुप्रतिक्षित डोबरा-चांठी पुल बन जाने से से टिहरी जिले के प्रतापनगर क्षेत्र की करीब ढ़ाई लाख की आबादी को लाभ मिलेगा। उत्तराखंड के टिहरी जिला मुख्यालय को प्रताप नगर ब्लॉक से सीधे जोड़ने वाले डोबरा-चांठी के निर्माण का कार्य 2006 में शुरू हुआ था।

मिली जानकारी के अनुसार टिहरी झील पर बने देश के सबसे लंबे सस्पेंशन पुल डोबरा चांठी के लोकर्पण अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि डोबरा पुल सिर्फ प्रतापनगर ओर टिहरी ही नहीं, बल्कि पूरे प्रदेश में पर्यटन की नई परिभाषा है। इससे दुनिया भर के पर्यटक यहां आएंगे और डोबरा नया पर्यटक स्थल बनेगा करीब चार से पांच घंटे लगते थे, लेकिन अब पुल के बनने के बाद ये दूरी घटकर सिर्फ डेढ़ से दो घंटे रह जाएगी। इसके साथ ही स्वास्थ्य सेवाओं और शिक्षा के हालातों में भी सुधार होगा। डोबरा-चांठी सस्पेंशन ब्रिज झूला पुल का निर्माण कार्य वर्ष 2006 में शुरू हुआ था, लेकिन लापरवाही और तकनीकी कमी के चलते पुल का डिजायन फेल हो गया। इस कारण वर्ष 2010 में पुल का काम बंद करना पड़ा। तब तक पुल निर्माण पर 1.35 अरब की रकम खर्च हो चुकी थी। इसके बाद वर्ष उत्तराखंड सरकार ने पुल का नया डिजायन बनाने के लिए अंतराष्ट्रीय टेंडर किए। जिसके बाद दक्षिण कोरिया की कंपनी योसीन ने पुल का नया डिजायन बनाया और लोनिवि निर्माण खंड ने 1.35 अरब की लागत से 2016 में दोबारा निर्माण कार्य शुरू किय गया और अब पुल बन गया है।

इसकी लम्बाई टिहरी बांध प्रभावित टिहरी जिले के प्रतापनगर और उत्तरकाशी जिले के गाजणा क्षेत्र की एक बड़ी आबादी को जोड़ने वाले डोबरा-चांठी पुल की कुल लंबाई 725 मीटर है। इसमें सस्पेंशन ब्रिज 440 मीटर लंबा है। इसमें 260 मीटर आरसीसी डोबरा साइड और 25 मीटर स्टील गार्डर चांठी साइड है। इस पुल की कुल चौड़ाई सात मीटर है, जिसमें मोटर मार्ग की चौड़ाई साढ़े पांच मीटर है, जबकि फुटपाथ की चौड़ाई 0.75 मीटर है।इस अवसर पर कृषि मंत्री सुबोध उनियाल, संसद माला राज्यलक्ष्मी शाह, प्रभारी मंत्री धन सिंह रावत, विधायक विजय सिंह पंवार, धन सिंह नेगी, विनोद रतूड़ी आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here